एलो वेरा (Aloe Vera) औषधीय गुण वाला पौधा है जिसे घृतकुमारी, घीकवार या ग्वारपाठा जैसे अन्य प्रचलित नामों से भी जाना जाता है। एलो वेरा में अनेक खनिज लवण और पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो आपके शरीर को हृष्ट-पुष्ट बनाये रखने में लाभदायक होते हैं। एलो वेरा के इन गुणों का लाभ उठाकर आप अपने शरीर को अंदर व बाहर से सुंदर और सजीव बना सकते हैं। यह औषधीय रूप से संजीवनी बूटी से कम नहीं है।

यदि खनिज लवणों की बात की जाये तो एलो वेरा आयरन, कैल्शियम, सोडियम, पोटैशियम, मैग्नीशियम, मैग्नीज़, क्रोमियम, कॉपर और टिन जैसे आवश्यक तत्वों से परिपूर्ण होता है। साथ ही इसमें विटमिन A, B1, B2, B6, C, E और D भी प्रचुर मात्रा में होते हैं, जिसकी मानव शरीर को आवश्यकता रहती है।

एलो वेरा के फ़ायदे

 

एलो वेरा के लाभ

1. एलो वेरा का तुरंत निकाला गूदा (Gel) जोड़ों और माँसपेशियों के दर्द में बहुत लाभकारी होता है, इसकी मालिश करने से दर्द फौरन मिट जाता है। गर्म सरसों के तेल के साथ एलो वेरा मिलाकर मालिश करने से दर्द से राहत मिलती है।

2. एलो वेरा के पत्तों को भूनकर रस निकालें और गर्म पानी के साथ सेवन करने से खाँसी, सर्दी और जुकाम से राहत मिलती है।

3. चोट अथवा जलने पर एलो वेरा का गूदा लगाने से आराम मिलता है और जलन समाप्त हो जाती है। यह इसके एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फ़ंगल गुण के कारण होता है।

4. यदि आपको कब्ज़, डायबिटीज़, बवासीर और पेट सम्बंधित परेशानियाँ रहती हैं तो आपको एलो वेरा के नियमित सेवन से काफी लाभ मिलता है।

5. एलो वेरा एनीमिया यानि शरीर में खून की कमी को पूरा करने में लाभदायक होता है। यह रक्त में हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ाने में सक्षम है। इसके सुबह-सुबह नियमित सेवन से शरीर में ऊर्जा और शक्ति का संचार होता है और सारा दिन काम-काज के बावजूद शरीर में ताज़गी और स्फूर्ति बनी रहती है।

6. एलो वेरा बालों का पोषण करने के साथ-साथ उन्हें नर्म, मुलायम व घना बनाता है। एलो वेरा के रस को मेंहदी के साथ मिलाकर बालों पर लगाने से बाल चमकदार और काले रहते हैं। साथ ही इसके नियमित प्रयोग से गंजापन भी दूर हो सकता है। यह सिर की रूसी साफ़ करने में भी कारगर है।

7. एलो वेरा हमारी त्वचा को अनेक प्रकार से लाभ पहुँचा सकता है। यह त्वचा को मॉइश्चराइज़ करता है और नमी बनाये रखता है। इसके प्रयोग से मुँहासे, शुष्क त्वचा, झाइयाँ, दाग़-धब्बे और आँखों के नीचे आने वाले काले घेरों को दूर किया जा सकता है। एलो वेरा सनबर्न के उपचार के लिए भी प्रयोग किया जाता है। आदमी इसे आफ़टर शेव लोशन की तरह भी प्रयोग कर सकते हैं।

8. एलो वेरा कटी-फटी एड़ियों पर लगाने से वे ठीक हो जाती हैं, साथ नर्म-मुलायम बनी रहती हैं।

9. एलो वेरा के जूस को नियमित पीने से मोटापे से छुटकारा मिल सकता है। यह भूख और खान-पीन की आदतों में भी सुधार लाता है। यह आपकी पाचन क्रिया को सही करता है और इसमें मौजूद पोषक तत्व आपके शरीर को स्वस्थ रखने में सहायक होते हैं।

10. मसूढ़ों पर एलो वेरा जेल से मालिश करने पर मसूढ़े स्वस्थ और मजबूत रहते हैं।

एलो वेरा को आप अपने घर में गमलों में उगा सकते हैं ताकि आप मनचाहे ढंग से इसका नियमित प्रयोग कर सकें।