बदलते मौसम के साथ ही कई तरह की बीमारियाँ हमें शिकार बना लेती हैं। इनमें जुकाम और खाँसी सबसे बड़ी समस्या है। आम सी लगने वाली बीमारी असल में बहुत परेशान कर देती है। इसमें दवाई भी तुरंत असर नहीं करती। ऐसे में इसके इलाज के लिए आप कई घरेलू तरीक़े आज़मा सकते हैं। ये आसानी से उपलब्ध होते हैं और इनका कोई भी साइडइफ़ेक्ट भी नहीं होता। तो आइए जानते हैं इन्हें कैसे दूर किया जा सकता है…

बदलते मौसम में आयुर्वेद का लाभबदलते मौसम में रहें हमेशा फ़िट

1. इलायची / Cardamom

इलायची न केवल बहुत अच्छा मसाला है बल्कि यह सर्दी और जुकाम से भी बचाव करता है। जुकाम होने पर इलायची को पीसकर रुमाल पर लगाकर सूँघने से सर्दी-जुकाम और खाँसी ठीक हो जाती है।

2. नींबू / Lemon

एक गिलास उबलते हुए पानी में एक नींबू और शहद मिलाकर रात को सोते समय पीने से जुकाम में फ़ायदा होता है। पका हुआ नींबू लेकर उसका रस निकाल लीजिए, इसमें शुगर डालकर इसे गाढ़ा बना लें, इसमें इलायची का पाउडर मिलाकर पीने से भी राहत मिलती है।

बदलते मौसम में नींबू का प्रयोग3. कपूर / Camphor

सर्दी से बचाव के लिए कपूर भी राहत पहुँचाता है। कपूर की एक टिकिया को रुमाल में लपेटकर बार-बार सूँघने से आराम मिलता है और बंद नाक खुल जाती है। इसके अलावा कपूर सूँघने से ठंड भी दूर होती है।

4. हल्दी / Turmeric

बदलते मौसम में जुकाम और खाँसी से बचाव के लिए हल्दी अच्छी मानी जाती है। यह बंद नाक और गले की ख़राश की समस्या को भी दूर करती है। दो चम्मच हल्दी पाउडर को एक गिलास दूध में मिलाकर सेवन करने से सर्दी लगने पर आराम मिलता है। दूध में मिलाने से पहले दूध को गर्म कर लें। इससे बंद नाक और गले की ख़राश दूर होगी।

बदलते मौसम में हल्दी का प्रयोग5. गेहूँ की भूसी / Wheat Bran

जुकाम के इलाज के लिए 10 ग्राम गेहूँ की भूसी, पांच लौंग और कुछ नमक लेकर पानी में मिलाकर इसे उबाल लें और इसका काढ़ा बनायें। एक कप काढ़ा पीने से आपको फ़ौरन आराम मिलेगा।

6. तुलसी / Basil Leaves

तुलसी की पत्तियाँ चबाने से कोल्ड और फ़्लू दूर हो जाता है। बदलते मौसम में खाँसी और जुकाम होने पर इसकी पत्तियाँ (प्रत्येक 5 ग्राम) पीसकर पानी में मिलायें और काढ़ा तैयार कर लें। इसे पीने से आराम मिलता है।

7. अदरक / Ginger

सर्दी और जुकाम में अदरक बहुत फ़ायदेमंद होती है। अदरक को महाऔषधि कहा जाता है, इसमें विटामिन और प्रोटीन मौजूद होते हैं। अगर किसी को कफ़ वाली खाँसी हो तो उसे रात को सोते समय दूध में अदरक उबालकर पिलाएं। अदरक की चाय पीने से जुकाम में फ़ायदा होता है।

बदलते मौसम में अदरक का प्रयोग8. काली मिर्च पाउडर / Black Pepper Powder

दो चुटकी काली मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर दो चुटकी, सौंठ पाउडर दो चुटकी, लौंग का पाउडर एक चुटकी और बड़ी इलायची आधी चुटकी, लेकर एक गिलास दूध में डालकर उबाल लें। दूध में मिश्री में मिलाकर पीने से जुकाम ठीक हो जाता है।

आशा है इन मसालों को खानपान में अपना कर आप बदलते मौसम में ख़ुद को फ़िट रख सकने में क़ामयाब होंगे।