आप शायद विकास प्रक्रिया के इस तथ्य से आसानी से समझ सकते हैं कि जैसे जैसे उम्र बढ़ती व्यक्ति बूढ़ा हो जाता है। इसलिए अगर कहा जाए कि शिशु गर्भ में ही बुढ़ापे की ओर अग्रसर होने लगता है तो आप इस बात को भी समझ लेंगे। लेकिन अगर महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रख लिया जाए तो बुढ़ापे की ओर अग्रसर शिशु को इस प्रक्रिया से काफ़ी हद तक बचाया जा सकता है।

गर्भ में ही बुढ़ापे की शुरुआत

गर्भ में ही बुढ़ापे के निशान

कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के प्रोफ़ेसर डीनो जुसानी और उनकी रिसर्च टीम ने डीएनए सम्बंधित शोध किया है। जिससे पता चला है कि इंसान के क्रोमोसोम पर उसका डीएनए रिकॉर्ड होता है। इंसानी शरीर में डीएनए के 23 जोड़े होते हैं। क्रोमोसोम के बांधे रखने वाले अंतिम सिरे को टेलोमेरस कहते हैं।

बढ़ती उम्र के साथ टेलोमेरस छोटा होता जाता है, जिसकी लम्बाई से उम्र का पाता आसानी से लग जाता है। हमारी रक्त कणिकाओं में टेलोमेरस होता है, और इसकी लम्बाई से बुढ़ापे की रफ़्तार भी पता की जा सकती है।

ऑक्सीजन की कमी का असर

गर्भावस्था के समय यदि माँ के ख़ून में ऑक्सीजन की कमी हो तो शिशु के स्वास्थ्य पर डायरेक्ट असर पड़ता है। अधिकांश मामलों में धूम्रपान और प्रिएक्लमेशिया के कारण महिलाओं में ऑक्सीजन की कमी हो जाती है।

इस सम्बंध में गर्भवती चुहियाओं को अलग अलग समूह में बाँटकर प्रयोग किए गए। जिस समूह की चुहियाओं को 7% ऑक्सीजन कम दी गई, उनके बच्चों के टेलोमेरस छोटे थे। जिससे उन्हें दिल की बीमारियाँ अपेक्षाकृत अधिक हुईं।

गर्भ में ही बुढ़ापे की शुरुआत

एंटीऑक्सीडेंट का प्रभाव

जिन चुहियाओं को एंटीऑक्सीडेंट डोज़ दिए गए उनके बच्चों में भी हृदय रोग की सम्भावना कम रही। प्रो० जुसानी समझाते हैं कि वातावरण का प्रभाव हमारे जीन पर पड़ता है, जैसे प्रदूषण, धूम्रपान, मोटापा, व्यायाम न करना, इससे भी हृदय संबंधित रोगों का डर बढ़ता है।

यह बहुत काम की जानकारी है, जिसका प्रयोग करके दिल की बीमारियों के ख़तरे को टाला जा सकता है। एंटीऑक्सीडेंट के डोज़ बुढ़ापे की रफ़्तार कम करते हैं, लेकिन गर्भवस्था में किसी शिशु पर ऐसे प्रयोग पहली बार किए गए हैं।

एंटीऑक्सीडेंट – वह तत्व जिनसे शरीर के टॉक्सिक तत्वों को हटा देते हैं। अनार, अंगूर, खुमानी, आलू बुखारा, ब्लूबेरी आदि इसके प्रमुख स्रोत हैं।

Keywords – Anti-aging formula, Anti-aging research, Anti-oxidants role, Aging in pregnancy, जवानी का रहस्य , अमरता का रहस्य , Garbh Mein Hi Budhapa, Jawani ka rahasya