गुलाब के फूल सबको सुंदर और आकर्षक लगते हैं। लेकिन इसका इस्तेमाल सिर्फ़ सजावट तक ही सीमित नहीं है। यह एक अच्छी जड़ी-बूटी भी है। गुलाब जल, गुलाब के फल और तेल से कई तरह की बीमारियों में आराम मिलता है। गुलाब का तेल चोट से निकलने वाले ख़ून को रोकने में भी कारगर है। आइए आपको बताते हैं गुलाब के कुछ ऐसे ही फायदों के बारे में।

गुलाब के फूल के स्वास्थ्य लाभ

गुलाब के फूल

आँखों की देखभाल

गुलाब जल थकी हुई आँखों को फौरन राहत पहुंचाने में बहुत कारगर होता है। गुलाब जल के इस्तेमाल से आँखों में नई चमक आती है और वह हेल्दी रहती हैं। अगर आप कंप्यूटर के सामने बहुत ज्यादा समय बिताते हैं तो सोने से पहले रोज आँखों में गुलाब जल डालना चाहिए।

बालों की देखभाल

गुलाब जल का एक और अनजाना लाभ भी है। इससे बालों को भी फायदा होता है। ये बालों की जड़ों में ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करता है, जिससे बालों की ग्रोथ में मदद मिलती है। इसके अलावा यह बालों को मजबूत और लचीला बनाने के लिए एक नैचरल कंडीशनर भी है।

मेंटल पावर को बढ़ाता

इसका तेल मेंटल पावर को बढ़ा सकता है। गुलाब का तेल डिप्रेशन और स्ट्रेस से लड़ने में मदद करता है। यह गुलाब का तेल डिप्रेशन को कम करने के लिए एक कारगर उपाय के रूप में इस्तेमाल किया जाता है, क्योंकि यह पॉज़िटिव थॉट पैदा करता है।

स्किन केयर

गुलाब जल स्किन केयर प्रॉडक्ट के तौर पर काफ़ी फ़ेमस है। गुलाब जल एक बेस्ट टोनर भी है। गुलाब जल में नैचरल एस्ट्रिंजेंट होने के कारण ये स्किन को बहुत फायदा करता है। रोज रात को इसे चेहरे पर लगाने से स्किन टाइट होती। यह स्किन के पीएच बैलेंस को बनाए रखता है।

घावों में फायदेमंद

घावों के इलाज के लिए गुलाब का तेल बहुत अच्छा उपाय है। गुलाब के तेल में मौजूद एंटीसेप्टिक गुण घावों को भरते हैं और इसकी ख़ुशबू से आपको रिलैक्स महसूस होता है। घाव पर गुलाब के तेल के इस्तेमाल से सेप्टिक बनने और इंफ़ेक्शन से बचने में मदद मिलती है।

गुलाब का फल

गुलाब का फल

गुलाब के फूल ही नहीं फल भी जड़ी बूटी हैं। गुलाब के फल विटामिन ए, बी 3, सी, डी और ई से भरपूर होते हैं। इसमें मौजूद विटामिन सी के कारण डायरिया के इलाज के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है। गुलाब के फल में फ्लवोनोइड्स, बायोफ्लवोनोइड्स, सिट्रिक एसिड, फ्रुक्टोज, मैलिक एसिड, टैनिन और जिंक भी होता है।

एस्ट्रिंजेंट

गुलाब के तेल में एस्ट्रिंजेंट के अद्‌भुत गुण होते हैं। यह मसूड़ों और बालों की जड़ों को मजबूत बनाने में मदद करते हैं। स्किन की देखभाल, मांसपेशियों में मजबूती, आँतों और रक्त वाहिकाओं में भी मददगार होते हैं। गुलाब का तेल चोट से निकलने वाले खून को रोकने में भी कारगर होता है।

एंटीफ्लॉजिस्टिक बुखार आने से रोकना गुलाब के तेल का अन्य लाभ है। इसमें मौजूद एंटीइंफ़्मेंटरी तत्व सूजन को कम करने में मदद करते हैं। सूजन वाले भाग पर तेल लगाने से आराम मिलता है।

हर्बल चाय

गुलाब जल का इस्तेमाल एक हर्बल चाय के रूप में किया जाता है। यह पेट के रोगों और यूरीनल इंफ़ेक्शन को दूर करने के काम आती है। हर्बल गुलाब जल चाय के एक घूंट से आप रिलैक्स फील करेंगे।

गुलाब के फूल और फल हमारे जीवन को स्वास्थ्यवर्धक बनाते हैं इसलिए अगर आप इस लेख को अन्य मित्रों के साथ शेअर करेंगे तो सभी गुलाब के इन गुणों से परिचित हो सकेंगे।