अक्सर हाथ पैर में दर्द होने पर लोग पेन किलर दवा खा लेते हैं। इस दवा से दर्द से तो आराम मिलता है लेकिन ध्यान रखना चाहिए कि पेन किलर के ज़्यादा प्रयोग से किडनी पर ख़राब असर पड़ता है। इस आलेख में आप ऐसे घरेलू और देशी नुस्खे पढ़ेंगे जिनसे हाथ पैर में दर्द, सूजन, जलन और सुन्न होने का इलाज संभव है।

हाथ पैर में दर्द
Hand pain

हाथ पैर में दर्द का कारण

पैरों में दर्द उंगलियों, तलवों और टखने या पिंडियों पर किसी भी जगह हो सकता है और इस दर्द के कई कारण हो सकते हैं।

– उम्र का बढ़ना
– ज़्यादा देर तक चलना और घूमना-फिरना
– लम्बे समय तक खड़े रहकर काम करना
– शरीर में पोषक तत्वों की कमी
– शुगर यानि डायबिटीज रोग होना या अन्य स्वास्थ्य समस्या होना
– खिलाड़ियों और जिम में कसरत करने वालों को भी दर्द होता है

सर्वाइकल प्रॉब्लम होने से भी गर्दन, हाथों और कंधों में दर्द और सुन्न होना जैसी शिकायत होती है। ( स्लिप ) डिस्क प्रॉब्लम से कुल्हों और पैरों में दर्द होने लगता है जिससे उठते बैठने और चलने में काफी परेशानी होती है। सर्वाइकल और डिस्क रीढ़ की हड्डी के वो जुड़े हुए भाग होते हैं, जिनमें नस दबने से दर्द होने लगता है। अगर इस तरह का दर्द और परेशानी महसूस हो तो डॉक्टर से कंस्लट करें।

हाथ पैर में दर्द का इलाज

1. लौंग का तेल

शरीर में कभी जोड़ों का दर्द हो या फिर दांत का दर्द हो तो लौंग के तेल मालिश करने से मांसपेशियां को आराम मिलता है और दर्द से राहत मिलती है।

2. गरम और ठंडा पानी

1 बड़े बर्तन में ठंडा पानी भरे और एक बर्तन में गुनगुना पानी। अब अपने पैरों को 2 से 3 मिनट के लिए गुनगुने पानी में डालकर रखें और उसके बाद 10 से 15 सेकेंड के लिए ठंडे पानी में डालें। इस क्रिया को 2 से 3 बात करें और इसकी शुरुआत हमेशा गुनगुने पानी से करें और खत्म ठंडे पानी से करें। इस क्रिया को कोल्ड और हॉट वाटर थेरेपी के नाम से जाना जाता है, जो हाथ पैर में दर्द होने पर कारगर घरेलू उपाय है।

3. आइस थेरेपी (बर्फ से सिंकाई)

– दर्द और सूजन का इलाज आइस थेरेपी से भी होता है। एक प्लास्टिक के बैग में बर्फ़ भरकर दर्द वाली जगह पर मसाज करें। इस उपाय को 10 मिनट तक ही प्रयोग करे6।

– पैर की नसों में सूजन दूर करने के लिए बर्फ से सिंकाई करने पर सूजन उतर जाती है।

4. सेंधा नमक

हाथ पैर में दर्द होने पर एक बाल्टी सहनीय गरम पानी भरकर उसमें 2-3 चम्मच सेंधा नमक मिलाएं और इस पानी में 10 पानी पैर डालकर बैठें।

5. सरसों के दाने

एक बाल्टी या किसी बड़े बर्तन में सहनीय गरम पानी में सरसों के दाने पीसकर डालें। इस पानी से 10-15 मिनट तक अपने हाथ पैर की सिंकाई करें। इस उपाय से रक्त संचार सुचारू होता है और धीरे-धीरे सूजन और दर्द खत्म हो जाती है।

Leg pain
Leg pain

योग द्वारा हाथ पैर में दर्द का इलाज

हाथ पैर में दर्द से छुटकारा पाने में योग करना बेस्ट उपचार है। योग में कंधरासन करने से हाथ पैर में दर्द, कंधे, कमर और घुटनों के दर्द से भी राहत मिलती है।

कंधरासन योग में आप को ज़मीन पर शवासन की मुद्र में लेटकर पहले अपने दोनों घुटने मोड़ने हैं और पैरों के पंजों को ज़मीन से लगाये रखना है, इसके बाद आपको बिना अपनी गर्दन और सिर को हिलाए कमर को ऊपर की ओर उठाना है और अपने हाथों से पैरों के टखनों को पकड़ना है। ओस आसन को करने से पहले इसे पूरी तरह सीखें, इसके लिए आप बाबा रामदेव के योग वीडियो देख सकते हैं।

हाथ पैर में जलन का इलाज

पैर के तलवों में जलन रक्त संचार कम होने पर या मांसपेशियां कमज़ोर होने से हो सकती है। ये परेशानी डायबिटीज के मरीज़ों और बड़े-बूढ़ों को अधिक होती है। इसके अलावा किसी दवा के साइड इफ़ेक्ट, ब्लड प्रेशर और विटामिन की कमी से भी तलवे में जलन हो सकती है।

– इस प्रकार की जलन से छुटकारा पाने के लिए विटामिन बी3 से युक्त आहार खाएं।

– जैतून या फिर नारियल के तेल में थोड़ा अदरक का रस मिलाकर हल्का गुनागुना करके पैर के तलवों और ऐड़ियों पर 5-10 मिनट के लिए मालिश करें।

– लौकी का एक टुकड़ा काटकर पैरों पर मलें, इससे पैरों को ठंडक मिलेगी।

– ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाने के लिए अदरक का एक टुकड़ा चबाना चाहिए। इस उपाय से पैर के दर्द के साथ पूरे शरीर को आराम मिलेगा।

हाथ पैर सुन्न होने का इलाज

हाथ पैर सुन्न होने की समस्या आम है और हम सभी कभी न कभी इससे गुज़र चुके हैं। गलत मुद्रा में बैठने और लेटने से हाथ पैर सुन्न हो सकते हैं, जिनमें झंझनाहट और कमज़ोरी महसूस होती है।

– हाथ पैर में सुन्न पड़ जाएँ तो इसे ठीक करने के लिए मसाज करना सबसे आसान इलाज है, इससे रक्त संचार बढ़ता है और जल्दी ही आराम हो जाता है।

– जो हाथ या पैर सुन्न हुआ है उसका व्यायाम करें। इससे में जल्द आराम पहुंचता है।

– एक गिलास गुनगुने दूध में आधा चम्मच हल्दी और थोड़ा शहद मिलाकर पीने से रक्त संचार में सुधार होता है।

नस चढ़ना और मांसपेशियों का दर्द

– नस पर नस चढ़ जाए तो जिस पैर की नस चढ़ी हो, उसी तरफ वाले हाथ की बीच वाली उंगली के नाखून का निचला भाग दबाएं और छोड़ें।

– जिस हाथ पैर की नस चढ़ गई हो उस पर ठंडे पानी से सिंकाई करने से आराम पहुंचता है।