बच्चे को जन्म देने के बाद महिलाएं स्तनपान कराती हैं। इसी वजह से वो दूसरों की तरह वज़न घटाने के नुस्खे नहीं अपना सकती हैं। चाहे बात व्यायाम की हो, डायटिंग करने की हो या फिर योग और आसन करने की हो। लेकिन खानपान में बदलाव करके और हल्के व्यायाम करके ही बढ़ती हुई चर्बी और निकला हुआ पेट कम किया जा सकता है। इस लेख में हम बच्चे को जन्म देने यानि गर्भावस्था के बाद वज़न घटाने के टिप्स देंगे।

प्रेग्नेंसी के बाद बॉडी शेप को सुधारना और शारीरिक रूम से फिट दिखना सभी महिलाओं का सपना होता है। अगर आप गर्भावस्था के समय बढ़ा हुआ वज़न कम करना चाहती हैं तो इस बात को समझ लें कि यह एक या दो हफ़्ते का काम नहीं है। समय लगेगा लेकिन छोटे छोटे टारगेट बनाकर वज़न कम किया जा सकता है।

प्रसव के बाद बॉडी रिकवर करती है और बच्चे को दूध भी पिलाना होता है। इसलिए किसी भी उपाय को करने में जल्द बाजी न करें। ताकि आप और आपका बच्चा दोंनो स्वस्थ रहेगा।

गर्भावस्था के बाद वज़न कम करना

गर्भावस्था में वज़न बढ़ने के कारण

– पाचन क्रिया में होने वाले बदलाव वज़न बढ़ने लगता है और महिलाएं मोटी हो जाती हैं
– शारीरिक रूप से कामकाज कम करने से वज़न बढ़ता रहता है
– हाइपोथाइराइड के कारण भी वज़न बढ़ सकता है
– गर्भवती महिलाएं अधिक कैलोरी वाला भोजन खाती हैं, जिससे वो मोटी हो जाती हैं

ऐसा माना जाता है कि नॉर्मल डिलिवरी के बाद वज़न धीरे धीरे कम हो जाता है, पर जिन महिलाओं की डिलिवरी सर्जरी से होती है, उन्हें वज़न घटाना मुश्किल है। सर्जरी के बाद किसी भी उपाय को करने से डॉक्टरी सलाह ज़रूर लेनी चाहिए।

वज़न घटाने के लिए सही कैलोरी

स्तनपान कराने वाली महिलाओं को कम से कम 2200 कैलोरी और दूध न पिलाने वाली महिलाओं को 1800 कैलोरी प्रतिदिन लेनी चाहिए।

गर्भावस्था के बाद वज़न घटाने के नुस्खे

1. बच्चा जनने के बाद वज़न घटाने के लिए ज़रूरी है कि आपके दैनिक आहार में प्रोटीन की समुचित मात्रा हो। प्रोटीन भूख को नियंत्रित करता है। दालें, बींस, अंडे आदि में प्रोटीन की भरपूर मात्रा होती है। ब्रेकफ़ास्ट में दलिया खाना चाहिए, इसमें फ़ाइबर और आयरन अधिक होता है।

2. एक बार में भारी आहार करने की बजाय दिन में कई बार थोड़ा थोड़ा खाना चाहिए। खाने को चबाकर खाना चाहिए।

3. हमेशा ताज़ा बना हुआ भोजन करना चाहिए।

4. पानी अधिक पीना चाहिए। दिन में कम से कम 4 लीटर पानी पिएं। पानी शरीर का मेटाबलिज़्म बढ़ाकर अतिरिक्त कैलोरी बर्न करने में मददगार होता है।

5. स्तनपान कराने से कैलोरी खर्च होती है और स्तन कैंसर का डर नहीं होता है।

6. बच्चे को दूध पिलाने से शरीर में मिनिरल्स और विटामिंस की कमी को पूरा करने के लिए ताज़े फल और सब्ज़ियों का सेवन करें। शलगम, गाजर, ब्रोकली, बींस, कद्दू, अमरूद, संतरा, अंगूर, स्ट्राबरी, ब्लूबरी आदि का सेवन कीजिए। फ्रिज में रखे हुए फल और सब्ज़ियां खाने से बचें।

7. नाश्ते में स्नैक्स और फास्ट फूड की जगह सेहतमंद बनाने वाली चीज़ें खाएं, जैसे – मेवा, गेहूँ के बिस्किट, सूखा मेवा, ओट्स आदि।

8. किसी प्रकार के व्यायाम को करने से पहले डॉक्टर से अवश्य सलाह ले लीजिए।

9. किसी भी तरह के मानसिक तनाव से ख़ुद को दूर रखें। हर पल को खुलकर जिएं।

10. 8 घंटे से अधिक नींद लें।

प्रसव के बाद वज़न घटाना

गर्भावस्था के बाद योग और व्यायाम

गर्भावस्था के बाद महिलाओं को बच्चे के साथ-साथ खुद का भी पूरा ध्यान रखना चाहिए। इसलिए समुचित आहार के साथ हल्का व्यायाम भी करना अच्छा होता है। इससे शरीर में ताज़गी आएगी और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी।

– सुबह शाम टहलना चाहिए। डिलवरी के 3 महीने बाद ही कोई उपाय और भारी व्यायाम करना चाहिए। गर्भावस्था के बाद वज़न घटाने के लिए योग अच्छा उपाय है। इसके बाबा रामदेव के वीडियो देखकर योग करें। कहीं कोई परेशानी है तो योगाध्यापक की मदद लीजिए।

प्राणायम से पेट कम करने में सफलता मिलती है।

– एरोबिक्स एक्सरसाइज़ करके भी आप पेट की चर्बी कम कर सकती है। इससे आपकी फ़िगर मेनटेन रहती है।

– घर और ऑफ़िस में सीढ़ियों का प्रयोग करने की आदत डालें।

हम पुन: दोहराते हैं कि कोई भी उपाय करने से पहले डॉक्टरी सलाह अवश्य ले लीजिए।

पेट कम करने के घरेलू नुस्खे

प्रसव के बाद महिलाएं जिम और एक्सरसाइज़ करना चाहती हैं, लेकिन बच्चे का ध्यान रखने और घर के कामकाज के बाद समय निकालना थोड़ा मुश्किल होता है। बाज़ार में बिकाने वाले फूड सप्लिमेंट से वज़न कम करने से बचना चाहिए। आपके शरीर पर इनका दुष्प्रभाव भी पड़ सकता है। इसलिए प्राकृतिक उपाय सबसे कारगर होते हैं।

– 3 इंच की दालचीनी और 3 कली लौंग 8 गिलास पानी में डालकर उबाल आने दें। फिर एक बर्तन में छान लीजिए। सर्दियों में इसे गुनगुना और गर्मियों में ठंडा करके पीना चाहिए। आप इसमें शहद भी मिला सकते हैं। जब भी आपको प्यास लगे यही पानी पियें। एक से डेढ़ महीने में पेट पर जमी अतिरिक्त चर्बी घट जाएगी।

– आधा आधा चम्मच काली मिर्च पाउडर और अदरक का रस एक चम्मच शहद में मिलाकर गुनगुने पानी के साथ खाली पेट लेना चाहिए। यह उपाय न केवल पेट कम करने बल्कि शरीर को नई उर्जा से भी भर देता है।

इस लेख में बताए गए उपाय न केवल गर्भावस्था के बाद वज़न कम करने में मददगार हैं, बल्कि तनाव मुक्त और फिट रखते हैं।