मुँहासे या पिंपल किसे परेशान नहीं करते। जवानी में हार्मोंस में होने वाले बदलाव के कारण मुहांसे निकलना कोई बड़ी बात नहीं है। इसके अलावा ऑयली स्किन भी मुहांसे निकलने का प्रमुख कारण है। त्वचा के पोर्स में तेल जमा होने से ब्लैकहेड बन जाते हैं जिनके कारण चेहरे पर एक्ने उभर आते हैं। आइए जानते हैं पिंपल , एक्ने या मुहांसे ठीक करने के लिए कौन कौन से प्राकृतिक उपाय किए जा सकते हैं। केमिकल क्रीम की बजाय घरेलू उपाय किये जाएँ तो अधिक अच्छा रहता है। खाने-पीने की आदतों में सुधार और त्वचा की नियमित सफ़ाई का ध्यान देना बहुत ज़रूरी है। जिन्हें पिंपल बहुत निकल रहे हों वे किसी भी नुस्खे को आज़माने से पहले त्वचा विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें।

मुहांसे का घरेलू इलाज

मुहांसे के लिए प्राकृतिक उपचार

1. अपने मुँह को साफ़ पानी से धोयें और कभी भी त्वचा को रगड़कर न पोछें क्योंकि इससे मुहांसे फूटने का डर रहता है। जिससे उसमें भरा पानी आपके चेहरे पर फैलकर मुहांसों को और भी बढ़ा सकता है। मुहांसों को स्वत: ख़त्म होने देना चाहिए।

2. चंदन पाउडर, गुलाब जल और मुल्तानी मिट्टी तीनों या किन्हीं दो का मिश्रण बनाकर चेहरे पर 10-15 मिनट लगा रहने दें फिर इसके बाद ठंडे पानी से धो लें। फिर नर्म कपड़े से पोछें, ऐसा करने मुहांसे जल्दी ठीक होते हैं और साथ ही उनके लौटने की सम्भावना भी कम हो जाती है।

3 नींबू के रस को पानी के साथ संतुलित मात्रा में मिलाकर चेहरे पर धीरे-धीरे मालिश करें। इस मिश्रण में चंदन का प्रयोग किया जा सकता है। नींबू के रस को सीधे इस्तेमाल करने से चेहरे पर जलन हो सकती है, यह उसकी अम्लीयता पर निर्भर करेगा।

4. लैवेंडर का तेल मुहांसों पर बहुत कारगर साबित होता है। इसे चेहरे पर लगाने से मुहांसे रात भर में गायब हो जाते हैं।

5. शहद के साथ पिसी दालचीनी का पेस्ट तैयार करके इससे चेहरे पर हल्के-हल्के मालिश कीजिए। आपको मुहांसों से काफ़ी हद तक राहत मिलेगी।

6. रात में व्हाइट टूथपेस्ट को अपने पिंपल्स पर लगाकर सो जाइए। सुबह आप देखेंगे कि मुहांसे ठंडे होकर सूख गये हैं।

अन्य ध्यान देने योग्य बात यह है कि मुहांसों को फोड़ने से अनेक प्रकार के इंफ़ेक्शन होने की सम्भावना रहती है। इसलिए इनपर बहुत अधिक ध्यान देने की ज़रूरत होती है। ज़रा सी लापरवाही बड़ा ख़तरा बन सकती है।

आशा है कि यह लेख आपके लिए उपयोगी साबित होगी।