सर्दी जुकाम से शायद ही कोई विरला बच सकता है। वरना तो अधिकतर लोग परेशान ही रहते हैं। यह रोग बहुत आम है लेकिन लंबे समय तक बना रहे तो कई बीमारियों की जड़ बन सकता है। यह समस्या अधिकतर बदलते मौसम में होती है, जैसे गर्मियों के बाद बरसात, बरसात के बाद सर्दी के मौसम में। हममें से अधिकतर लोग जाड़े में सर्दी जुकाम की गिरफ़्त में आ जाते हैं। कई बार मानसिक तनाव के कारण भी यह समस्या हो जाती है, स्टुडेंट अक्सर एक्ज़ाम टाइम में इससे जूझते हैं। सर्दी और जुकाम स्वाइन फ़्लू जैसी बीमारी के संकेत भी हैं, इसलिए डॉक्टरी परामर्श लेना अनिवार्य है। नाक बहना और सर्दी जुकाम कुछ भी ठंडा खाते ही होना साइनस के लक्षण है। इसलिए सावधान रहने की आवश्यकता है।

इस आलेख में हम आपको सर्दी जुकाम के घरेलू और आयुर्वेदिक उपचार बताएंगे।

सर्दी जुकाम खांसी बुखार उपचार
Sick woman lying in bed with high fever. Cold, flu, fever and migraine

सर्दी जुकाम के लक्षण

Cough and Cold Symptoms

यूँ तो जुकाम 1 हफ्ते में अपने आप ठीक हो जाता है, लेकिन कई बार इससे भी अधिक समय लग सकता है। एलोपैथी में इसका कारगर इलाज नहीं है। सर्दी जुकाम कई तरह के विषाणुओं से होता है, और एक बार जिस वायरस के कारण हुआ है, अगली बार उससे नहीं होता है। अगली बार इसके लिए नया विषाणु जिम्मेदार होता है। इसलिए इसकी कोई दवा नहीं है।

– बार बार छींक आना
– नाक से पानी बहना
– आंखों में पानी आना
– गले में ख़राश होना
– सांस लेने में परेशानी होना
– शरीर हल्का तपने लगना

सर्दी जुकाम से बचाव

Precautions

बदलते मौसम में सर्दी जुकाम खांसी और बुखार की चपेट में आना कोई बड़ी बात नहीं है। इसके लिए कोई सर्दी जुकाम की दवा अभी तक बनी नहीं है। लेकिन कुछ घरेलू उपाय अवश्य हैं जिनकी सहायता से आम इस समस्या से बचे रह सकते हैं।

– घर के किसी सदस्य को सर्दी जुकाम होने पर उसके बर्तनों में न खा पिएं। न ही उसके कपड़े जैसे रुमाल, तौलिया आदि प्रयोग करें।

– इस समस्या विषाणु छूने से फैलता है, इसलिए आपको हाथ धोकर ही खाना पीना चाहिए।

– खानपान पर ध्यान दीजिए और ऐसा भोजन करें, जिससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती हो।

सर्दी जुकाम का उपचार

Cough and Cold Home Remedies

कफ और कोल्ड का असर नाक से शुरु होता है और फिर पूरे शरीर को प्रभावित करता है। इस समस्या के इलाज की कोई दवा एलोपैथी में नहीं है। लेकिन आयुर्वेद में इससे बचाव के असरदार नुस्खे ज़रूर मौजूद हैं।

१. हरी मिर्च और सेंधा नमक की चटनी बनाकर रोटी के साथ खाने से फ़ायदा होगा। यह खाने के बाद आपके आंखों से पानी निकलेगा और गला साफ़ हो जाएगा। जिससे जमा हुआ कफ निकल जाएगा।

२. हल्दी वाला गरम दूध पीने से कफ हट जाता है और सर्दी जुकाम से आराम मिलता है। नाक बह रही हो तो हल्दी का एक टुकड़ा जलाकर उसका धुँआ नाक में लेने नाक का सारा पानी बह जाएगा। इससे आप जल्दी आराम महसूस करेंगे।

३. नाक बंद और गले में ख़राश होने पर गरम पानी में चुटकी भर नमक डालकर गरारे करें। इससे आपका गला खुल जाएगा। विषाणु का प्रकोप भी कम हो जाएगा।

४. जब सर्दी जुकाम ठीक न हो जाए, सुबह शाम अदरक के साथ शहद चूसने से आराम रहेगा।

५. विटामिन सी कफ और कोल्ड में बहुत फ़ायदेमंद है। इसलिए एक गिलास नींबू पानी बनाकर उसमें शहद घोलकर पी जाएं।

६. पानी के साथ किशमिश के कुछ दाने पीसकर पेस्ट बनाएं। इस पेस्ट में चीनी डालकर उबालें और ठंडा होने दें। इसका सेवन रात को सोने से पहले करें।

७. इमली और कालीमिर्च का सूप गरम गरम पीने सर्दी जुकाम के विषाणु समाप्त हो जाते हैं।

८. अदरक, तुलसी, पुदीना और कालीमिर्च मिलाकर चाय बनायें। इसे पीने से भी आराम होगा।

९. रात को सोने से पहले राई का तेल हल्का गर्म करके दो तीन बूँद दोनों कानों में डालकर रुई लगा लें। इसे भी फ़ौरन आराम मिलता है।

१०. 1 गिलास दूध में खजूर उबालकर पीने से सर्दी जुकाम में राहत मिलती है।

कफ और कोल्ड के घरेलू उपाय

Cough and cold
Cough and cold

११. 10 से 15 ग्राम गेहूँ भी भूसी, 5 लौंग और थोड़ा सा नमक लेकर उसे पानी में मिलायें। इसे उबालकर काढ़ा तैयार करें। हर दिन 2 बार 1-1 कप यह काढ़ा पीने आराम महसूस होगा।

१२. तुलसी के पत्ते चबाकर खाएं या फिर उबालकर काढ़ा बनाकर सेवन करें। दोनों ही रूपों में फ़ायदेमंद है।

१३. दालचीनी और जायफल की बराबर मात्रा लेकर चूर्ण बनायें। इसे सुबह शाम खाने से बहुत फ़ायदा होगा। जल्दी दुबारा सर्दी जुकाम भी नहीं होगा।

१४. दालचीनी, इलायची, कालीमिर्च और जीरे को समान मात्रा में लेकर सूती कपड़े में बांध लें। इसे सूँघते रहने से छींक आएगी और बंद नाक खुल जाएगी।

१५. इस परेशानी में आपको धूल मिट्टी और धुँए से दूर रहना चाहिए। इससे सर्दी जुकाम और बिगड़ सकता है।

१६. जुकाम और कफ होने पर सुबह शाम गुनगुने पानी के साथ अजवाइन खाने से आराम होता है।

१७. लहसुन को उबालकर पीना भी फ़ायदेमंद होता है।

१८. सर्दी जुकाम हो जाए तो आराम करने के साथ-साथ आपको पानी अधिक पीना चाहिए और फलों के रस का सेवन करना चाहिए।

१९. 5 दाने कालीमिर्च और सेंधा नमक पीसकर दिन में 3 बार गुनगुने पानी के साथ लेने से कफ और कोल्ड से आराम मिलता है।

२०. 4 दाने कालीमिर्च और हींग का पाउडर बना लें। इसे ज़रा से गुड़ के साथ सुबह शाम खाने से सर्दी जुकाम चला जाता है।

२१. सर्दी जुकाम के रोगी को पूरी नींद सोना चाहिए और योग भी करना चाहिए। ताकि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित हो।

सर्दी के घरेलू उपाय

Winter Season Common Problems and their Treatments

– सर्दी में होंठ फटने पर कोकम का तेल लगाने से वह ठीक हो जाते हैं।

– पैरों की एड़ियां फटने पर प्याज का लेप लगाने से फ़ायदा होता है।

– सर्दियों में कब्ज़ की शिक़ायत ज़्यादा होती है, इसलिए पानी अधिक से अधिक पीना चाहिए।

– दूध में जायफल घिसकर लेप बनायें, इससे सिर दर्द में आराम मिलेगा।

– छाती में बलगम जम जाए तो हर दिन अंजीर का सेवन करें। इसे जमा हुआ बलगम बाहर निकल जाता है।

Keywords – Sardi Jukam Bukhar Ka Ilaj, Sardi Zukam Ka Ilaj, Cough and Cold Treatment, Sardi Jukam Khansi Bukhar ka upchar