दोस्तों हम सभी जानते हैं कि अन्नानास का जूस पीने के बाद हम कुछ भी खाएँ पिएँ उसका स्वाद हमें बदला बदला सा लगता है। हालाँकि वजाइनल ओडर पर हमारे खान पान का कितना असर पड़ता है, इस बारे में कोई ऑफ़िशियल रिसर्च नहीं की गई है, लेकिन फिर भी डॉक्टर कुछ रोचक बातों पर विश्वास करते हैं, जिससे योनि की गंध बदल जाती है।

योनि की गंध और स्वाद
Ammodaucus leucotrichus

वो कारण जिनसे योनि की गंध और स्वाद बदलता है

1. ज़्यादा एल्कलाइन फ़ूड जैसे अदरक और मसालेदार सब्ज़ी

करेन एलिज़ाबेथ बॉयल, एमडी, एफ़एसीएस कहती हैं, स्वस्थ योनि ‌_ Healthy Vagina में अम्लीय पीएच होता है, इसलिए ऐसा भोजन जो पीएच को बदल सकता है, वो वजाइना की स्मेल भी बदल देगा। इसलिए फ़ूड न केवल आपकी जीभ का स्वाद बदलता है, बल्कि अदरक खाने के बाद आपकी योनि का स्वाद भी वैसा ही टेस्ट करेगा।

2. एंटीबॉयोटिक्स

डॉ बॉयल के अनुसार, ज़्यादा एंटीबॉयोटिक्स लेने से वजाइना का प्राकृतिक बैक्टीरिया बदल जाएगा, जिससे यीस्ट इंफ़ेक्श्न हो जाता है, और स्त्री योनि के प्राकृतिक स्राव को बदल देता है। क्योंकि एंटीबॉयोटिक्स प्राकृतिक बैक्टीरिया को मार देते हैं, जिसे पीएच बदल जाता है, और जिससे शुष्कता और स्राव भी बदल जाता है। इससे वजाइनल ओडर बदल जाती है। इस तरह आपकी वजाइनल टेस्ट भी बदल सकता है, लेकिन जब आपको एंटीबॉयोटिक्स लेनी हो तो आपको एंटीबॉयोटिक्स लेनी ही पड़ती है।

3. विटामिंस

ज़रूरी हो तो आप विटामिंस लेते रहिए, लेकिन डॉ बॉयल कहती हैं कि ज़्यादा विटामिन बी लेने से योनि की गंध अजीब हो जाती है, विशेषकर जब आप बहुत ज़्यादा मल्टीविटामिंस खा रहे हों। लेकिन ज़्यादा घबराने की बात नहीं है क्योंकि जो किसी एक को नापसंद हो ज़रूरी नहीं है वह किसी और भी पसंद न हो। साथ ही, अगर वाइटमिंस आपको स्वस्थ रखते हैं, तो आप इन्हें खाते रहें।

4. ह्वीट ग्रास

मारिया सोफोक्लेस, एमडी, जो वीमेंस हेल्थकेयर ऑफ़ प्रिंसटन की मेडिकल डॉयरेक्टर और ग्यानेकोलॉजिस्ट हैं; कहती हैं ह्वीट ग्रास और क्लोरोफ़िल प्राकृतिक डियोडोराइज़र्स हैं, जो आपकी गंध बदल सकते हैं।

वजाइंल ओडर चेंज

5. मासिक धर्म

एल्यस्सा ड्वेक, एमडी, जो मा० सिनाय स्कूल ऑफ़ मेडिसिन की अस्सिटेंट क्लिनिकल प्रोफ़ेसर और साथ ही वी इज़ फ़ॉर वजाइना की सह-लेखक हैं; कहती हैं कि मासिक धर्म के पहले और बाद में स्त्री योनि का स्वाद धात्तिव (लोहे की धातु जैसा) हो जाता है, क्योंकि रक्त में लौह तत्व पाए जाते हैं।

6. व्यायाम

डॉ० ड्वेक कहती हैं जिम में समय बिताने के बाद आपका स्वाद नमकीन हो जाता है, क्योंकि पसीने में नमक होता है। इस बारे में किसी डॉक्टरी सलाह की आवश्यकता के बारे में सोचना ज़रूरी नहीं है।

आपके शरीर के साथ साथ योनि की गंध और स्वाद में मामूली परिवर्तन बुरी बात नहीं है, लेकिन जब बात बिगड़ने लगे, तब आप अपने डॉक्टर से बात करके कारण जान सकती हैं।

Keywords – Sexual Wellness, Women Health, यौन स्वास्थ्य ,  महिला स्वास्थ्य , स्त्री स्वास्थ्य , वजाइनल ओडर , वजाइनल गंध , वजाइनल टेस्ट