व्हीटग्रास जूस प्रकृति की अनमोल देन है। इसे अमृत के समान ही माना गया है। गेहूं के ज्वारे एक प्रकार का फूड सप्लीमेंट हैं, जिसमें 17 तरह के अमीनो एसिड, एंजाइम, विटामिन और प्रोटीन होते हैं। जो बॉडी की मृत कोशिकाओं को पुनर्जीवन देते हैं और शरीर का पीएच बैलेंस संतुलित रखते हैं।

व्हीटग्रास जूस किसी दूसरी वेज या नॉन वेज खाने की चीज से कहीं अधिक गुणकारी और फायदेमंद होता है। यह शरीर में होने वाली ऑक्सीजन की कमी को पूरा करके एनर्जी प्रदान करता है। इससे कमजोरी दूर भाग जाती है और शरीर का स्टैमिना बढ़ जाता है।

व्हीटग्रास जूस पीने के लाभ

व्हीटग्रास जूस के फायदे

1. त्वचा को जवान रखे

प्राकृतिक न्यूट्रीशन और एंटी ऑक्सीडेंट से भरपूर व्हीटग्रास आपको जल्दी बूढ़ा होने नहीं देता है। रोजाना इसको पीने से स्किन हाइड्रेट हो जाती है और चेहरे पर पिंपल्स दाग धब्बे और झुर्रियां साफ हो जाते हैं। आप व्हीटग्रास जूस का प्रयोग सीधे ही चेहरे के दाग धब्बों को मिटाने के लिए भी कर सकते हैं।

2. बालों को काला करे

असमय सफेद होते बालों को काला करने के लिए रोज गेहूं के ज्वारे का रस पीना लाभकारी होती है। अगर बालों में रूसी की समस्या है तो आप इसके रस से बाल धोकर 15 मिनट बाद शैंपू कर लें रूसी खत्म हो जाएगी।

3. हीमोग्लोबिन बढ़ाए

यह शरीर में ब्लड सरकुलेशन को भी बढ़ाता है, जिससे शरीर में नया खून बनता है और यह नया खून पुराने खून को डिटॉक्स कर देता है। साथ ही साथ बॉडी में हीमोग्लोबिन की मात्रा भी बढ़ जाती है।

4. ब्लड शुगर कंट्रोल करे

डायबिटीज का इलाज करने के लिए व्हीटग्रास का रस पीना चाहिए। इससे खून में शुगर की मात्रा कंट्रोल हो सकती है।

5. कैंसर का उपचार

कैंसर का उपचार करने में व्हीटग्रास जूस पीना रामबाण की तरह काम करता है। इसमें मौजूद क्लोरोफिल शरीर में कैंसर की कोशिकाओं को कम करते हैं। कीमोथैरेपी और रेडियोथैरेपी के दौरान कैंसर रोगियों को व्हीटग्रास का सेवन करने की सलाह दी जाती है।

6. दांतों की सड़न का उपाय

– इसका सेवन करने से दांतों में सड़न नहीं होती है। अगर किसी को पायरिया की बीमारी हो और मसूढ़ों से खून आ रहा हो तो व्हीटग्रास जूस पीने से दांत का दर्द ठीक हो जाता है। व्हीटग्रास पाउडर से मालिश करने पर मसूढ़ों से खून आना बंद हो जाता है। आप गेहूं के ज्वारे को चबा चबा कर खाए तो दांत और मसूढ़े तंदुरुस्त रहते हैं।

मुंह की बदबू आने पर 3 से 4 बार गेहूं के ज्वारे चबाने से मुंह की दुर्गंध खत्म हो जाती है।

7. कब्ज का उपाय

कब्ज खोलने के लिए व्हीटग्रास जूस बहुत ही फायदेमंद है। यह शरीर की पाचन क्रिया को स्वस्थ रखता है।

8. आंखों की रोशनी बढ़ाए

व्हीटग्रास जूस में विटामिन ए की मात्रा अधिक होती है, इसलिए आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए रोगी को इसका सेवन करना चाहिए।

गेहूं के ज्वारे का फायदे

व्हीटग्रास के अन्य लाभ

– एंटीसेप्टिक और एंटीऑक्सीडेंट गेहूं का ज्वारे जली कटी त्वचा और घाव को ठीक करने में काम आता है।

– गले में किसी तरह का इंफेक्शन हो गया हो या खराश हो तो आपको व्हीटग्रास जूस पीना चाहिए।

– हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को व्हीटग्रास का जूस अपने आहार में रखना चाहिए। इससे ब्लड प्रेशर कंट्रोल रहता है।

– व्हीटग्रास का जूस पीने से भूख कम हो जाती है जिससे मोटापा कम करने में मदद मिलती है।

आप खुद सोचिए कि जब विभिन्न रोगों में व्हीटग्रास जूस कितना लाभकारी है तो यह किसी स्वस्थ मनुष्य को कितना लाभ पहुंचाएगा।

व्हीटग्रास जूस कब पीना चाहिए

– इस जूस को पीने का कोई निश्चित समय नहीं होता है। पर पर इसे पीने के आधा घंटा पहले और आधा घंटा बाद कुछ भी खाना पीना नहीं चाहिए।

– सुबह खाली पेट व्हीटग्रास जूस पीने पर अधिक फायदा मिलता है।

व्हीटग्रास जूस पीने से सर्दी जुखाम, बुखार, उल्टी, सिर दर्द, दस्त, पुरानी कब्ज जैसी शिकायत हो सकती है। पर आपको घबराना नहीं चाहिए जब शरीर से विषैले तत्व और पदार्थ बाहर निकलते हैं तो ऐसे लक्षण दिखना स्वाभाविक है।

हम आपको घर पर गेहूं के ज्वारे उगाने, व्हीटग्रास का जूस बनाने, व्हीटग्रास का पाउडर इस्तेमाल करने और व्हीटग्रास जूस की कितनी मात्रा पीनी है। इस बारे में महत्वपूर्ण जानकारी पिछले लेख में दे चुके हैं।

Keywords – wheat grass juice pine ke fayde, wheat grass juice benefits, gehu ke jvare ka juice pine ke fayde, gehu ke jvare ke juice ke labh