योग का अर्थ : योग के फायदे जानने से पहले योग क्या है, इसे भी जानना ज़रूरी है। संस्कृत शब्द युज से योग शब्द बना है, इसका अर्थ जोड़ना है। योग तन और मन को आपस में जोड़कर सभी विकारों का अंत करता है। योग शरीर को शक्तिवान और लचीला बनाता है। नियमित योग करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, मानसिक तनाव खत्म होता है, और शरीर बलिष्ठ हो जाता है।

योग का महत्व

आज कल हम योग के बारे में बहुत सुन रहे हैं। इस प्राचीन विद्या के अनेक लाभ हैं। पर बहुत से लोगों ने अभी तक इसे करना शुरु नहीं किया है। योग महिला और पुरुष दोनों के लिए है। यह शारीरिक और मानसिक परेशानियों को दूर भगा सकता है। यह कामकाज के तनाव कम करने, एकाग्रता बढ़ाने, अच्छी स्मरण शक्ति पाने और सौंदर्य प्राप्ति का मार्ग है।

योग के फायदे
Yoga ke fayde

योग का इतिहास

200 ईसा पूर्व महर्षि पतंजलि द्वारा रचित योग सूत्र योगासनों की एक प्रमाणित पुस्तक है। जिन्हें योग का पिता कहा जाता है। योग की उत्पत्ति 5000 ईसा पूर्व या 1000 ईसा पूर्व भारत में हुई थी। यह गुरु शिष्य परम्परा के माध्यम से पूरे विश्व में फैला है। आधुनिक समय में योग के फायदे तिरुमलाई कृष्णामचार्य, बीकेएस अय्यंगर, बाबा रामदेव आदि के द्वारा सर्वाधिक प्रचारित किए जा रहे हैं।

योग के प्रकार और योग मुद्रा

शास्त्रों में योग के आठ अंग बताए गए हैं- यम, नियम, आसन, प्राणायाम, प्रत्याहार, धारणा, ध्यान और समाधि। इन सबमें आसन, प्राणायाम और ध्यान सबसे ज़्यादा जाने जाते हैं।

योग के फायदे

1. मानसिक फायदे

मन और मस्तिष्क को स्वस्थ बनाने के लिए योग सबसे अच्छा उपाय है। आसन, प्राणायाम और ध्यान ये तीनों हमें तनाव अनिद्रा और अवसाद से दूर रखते हैं। जिससे एकग्रता और याददाश्त बढ़ती है। मानसिक कमज़ोरी ख़त्म हो जाती है। अगर सही तरीके से ध्यान किया जाए तो मानसिक परेशानियों को सुलझाने में रामबाण उपाय है।

2. शारीरिक फायदे

अनेक बीमारियों और विकारों के इलाज और बचाव में योग से चमत्कारिक फायदे मिलते हैं। नियमित रूप से योग करने से शरीर में मेरुदंड, मांसपेशियां और हड्डियां मजबूत होती है और रोगों से लड़ने की ताकत मिलती है।

3. पाचन तंत्र को लाभ

योग करने से अच्छी भूख लगती है, जिससे खाना अच्छे से डाइजेस्ट हो जाता है। खाना ठीक ढंग से पचने लगे तो मोटापा और दुबलापन नहीं होता है।

4. मोटापा कम करने में लाभ

शरीर की बढ़ी हुई चर्बी और वज़न कम करने में योग करने से लाभ मिलता है। अगर आप मोटापा करने के उपाय कर रहे हैं तो आपको नियमित योग करना चाहिए।

5. डायबिटीज का उपचार

योग करने से बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल और ब्लड शुगर कम हो सकता है। योग से टाइप 2 शुगर का इलाज भी संभव है। योग से रक्त संचार बढ़ता है और खून में ताज़ी ऑक्सीजन पहुंचती है। ब्लड प्रेशर की परेशानी होने पर नियमित योग करने से अदभुत फायदा मिलता है।

Benefits of Yoga
Benefits of Yoga

6. रोग प्रतिरोधक क्षमता में बढ़त

योग शरीर की बीमारियों से लड़ने की शक्ति को बढ़ाता है, जिससे बीमारियां पास भी नहीं भटकती हैं। बीमार व्यक्ति योग करे तो दवाओं पर निर्भरता खत्म हो जाती है।

7. त्वचा पर निखार

योग करने से त्वचा में चमक आती है, शरीर स्वस्थ और निरोगी रहाता है। जिससे त्वचा से बढ़ती उम्र का पता नहीं चलता है।

8. प्राणायाम के फायदे

प्राणायाम करने शरीर सभी भागों में ताज़ी ऑक्सीजन पहुंचती है जिसका हमारे शरीर पर अच्छा असर पड़ता है। नियमित प्राणायाम करने से सांस से जुड़ी हुई बीमारियां नहीं होती हैं। दमा, नज़ला, सिनोसाइट्स, टांसिल और एलर्जी से बचाव होता है। प्राणायाम में कपालभाती और अनुलोम विलोम ज़रूर करें।

9. ध्यान के फायदे

मेडिटेशन करने का अर्थ ध्यान करन होता है। यह योग का एक अभिन्न अंग है। मानसिक तनाव को कम करने के लिए इससे अच्छा दूसरा उपाय नहीं है। ध्यान लगाने से एकाग्रता शक्ति बढ़ती है और मन शांत रखता है।

योग दिवस

योग के फायदे समस्त विश्व तक पहुंचाने के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों के फलस्वरूप संयुक्त राष्ट्र संघ ने 11 दिसम्बर 2014 को योग दिवस की घोषणा की। इसके बाद 21 जून को 2015 को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया। उसी के बाद से योग दिवस पूरे विश्व में मनाया जाता है। 21 जून साल का सबसे बड़ा दिन होता है और योग भी मनुष्य को लम्बा और जीवन देता है। शायद इसलिए ही 21 जून का दिन योग दिवस के रूप में चुना गया।

Keywords – yoga benefits in hindi, yoga in hindi, baba ramdev yoga in hindi, yoga history in hindi, yoga ke fayde in hindi, importance of yoga in hindi, yoga in hindi tips, yoga ke prakar in hindi, yoga tips hindi me, yog diwas essay in hindi, world yoga day essay in hindi, article on yoga day in hindi, international yoga day in hindi